एक ऐसी जगह जहां मरने के बाद सबसे पहले पहुंचती है आत्मा

एक ऐसी जगह जहां मरने के बाद सबसे पहले पहुंचती है आत्मा: नमस्कार दोस्तों आज मे आपको हिमाचल प्रदेश मे स्थापित एक ऐसे मंदिर के  बारे मे बताना चाहती हूँ। जहाँ मरने के बाद सबसे पहले पहुँचती है आत्मा। दोस्तों जैसा की आप जानते हो की हिमाचल प्रदेश को देव भूमि कहाँ जाता हैं।क्योंकि यहाँ बहुत से मंदिर पाए जाते हैं । लेकिन ऐसा माना जाता है कि यहाँ यमराज का भी मंदिर पाया जाता हैं। तो आइये दोस्तों जानते है उस मंदिर के बारे मे।

दोस्तों यह एक ऐसा  मंदिर है जहां मरने के बाद हर किसी को जाना ही पड़ता है चाहे वह आस्तिक हो या नास्तिक। यह मंदिर किसी और दुनिया में नहीं हैं दोस्तों बल्कि भारत की जमीन पर  ही स्थित है। यह भारत देश की राजधानी दिल्ली से करीब 500 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। दोस्तों यह मंदिर उस पावन स्थान पर स्थित है जहाँ  भोले नाथ शिव का घर है जी हाँ यह हिमाचल के चम्बा जिले में भरमौर नामक स्थान में स्थित है।

READ :  ​​एक शापित बस्ती...जहा मौत भी आ जाए तो.......!!!!

Read More: गोवा के चर्च का रहस्य

दोस्तों इस मंदिर के बारे में कुछ बड़ी अनोखी मान्यताएं प्रचलित हैं।

दोस्तों ऐसा कहा जाता है कि यहां पर एक ऐसा मंदिर है  जो घर की तरह दिखाई देता है। इस मंदिर के पास लोग पहुंच तो जाते है पर बहुत से लोग मंदिर में प्रवेश करने का साहस नहीं जुटा पाते हैं। बहुत से लोग मंदिर को बाहर से प्रणाम करके चले आते हैं। इसका कारण यह  बताया गया है कि, इस मंदिर में धर्मराज यानी यमराज रहते हैं।दोस्तों संसार में यह इकलौता मंदिर है जो धर्मराज को समर्पित है।

READ :  एक आमंत्रित आत्मा - A Horror Story

दोस्तों इस मंदिर में एक खाली कमरा है जिसे चित्रगुप्त का कमरा माना जाता है। जैसा की आप जानते हो चित्रगुप्त यमराज के सचिव हैं जो जीवात्मा के कर्मों का लेखा-जोखा रखते हैं ऐसा माना जाता है कि जब किसी प्राणी की मृत्यु होती है तब यमराज के दूत उस व्यक्ति की आत्मा को पकड़कर सबसे पहले इस मंदिर में चित्रगुप्त के सामने प्रस्तुत करते हैं। चित्रगुप्त जीवात्मा को उसके कर्मों का पूरा ब्योरा देते हैं इसके बाद चित्रगुप्त के सामने के कक्ष में आत्मा को ले जाया जाता है। इस कमरे को यमराज की कचहरी कहा जाता है।  ऐसा कहा जाता है कि यहां पर यमराज कर्मों के अनुसार आत्मा को अपना फैसला सुनाते हैं।

Read More: 13 Mysterious Real Ghost Around the World

READ :  A True Love Story - सच्चा प्यार कभी नहीं मरता

यह भी मान्यता है इस मंदिर में चार अदृश्य द्वार भी  हैं जो स्वर्ण ,रजत, तांबा और लोहे के बने हैं। यमराज का फैसला आने के बाद यमदूत आत्मा को कर्मों के अनुसार इन्हीं द्वारों से स्वर्ग या नर्क में ले जाते हैं। गरूड़ पुराण में भी यमराज के दरबार में चार दिशाओं में चार द्वार का उल्लेख किया गया है।
दोस्तों हम आपके लिए ऐसी ही सच्ची कहानीयां ले कर आते रहेंगे ,उसके लिए Please आप हमारे ब्लॉग पर Likes और Comments करते रहे अगर आपको यह ब्लॉग पसन्द आया हो तो आप इसे share भी कर सकते हैं।

Comments

  • a thought by Top 09 Haunted Places In Delhi – SolutionBros.com

    […] […]

    Reply

  • a thought by चमकीला प्रेत: जिसकी वजह से बदल गयी ज़िन्दगी – SolutionBros.com

    […] […]

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Name and email are required