डायन का ख़ौफ़………!

​ डायन का ख़ौफ़

हेल्लो दोस्तों आज मैं आपको एक घटना के बारे मे बताऊंगी जो की मरे मामा जी के साथ हुई थी  ये कहानी मुझे मेरी मामी ने मुझे सुनाई थी। मेरी मामी एक छोटे से शहर से संबंध रखती हैं और ऐसा माना जाता था कि उस गांव में कुछ बुरी शक्तियां भी वास करती हैं। ऐसी ही एक बुरी शक्ति से सामना हुआ मेरे मामा जी  का। वह एक चुड़ैल थी, खुले बालों और सफेद भयानक चेहरे वाली चुड़ैल। ….डायन का ख़ौफ़…..

उस समय सर्दियों के मौसम था और बहुत ठंड थी ….शहर में बहुत घना कोहरा छाया हुआ था. मेरे मामा एक बहुत बड़े अधिकारी थे।हर रोज की तरह उस दिन जब मेरे मामा अपना काम खत्म कर के दफ्तर से घर की ओर आ रहे थे। और रास्ते में पड़ने वाले बाजार से वह कुछ सामान लेने के लिए रुके। उनके बाकी दोस्त आगे चले गए और वो पीछे छूट गए।
सामान लेते-लेते उन्हें टाइम का पता ही नहीं चला और जब मामा जी ने अपनी घड़ी देखी  और टाइम बहुत हो गया था। टाइम देखकर उन्हें लगा कि आज घर पहुंचने में बहुत देर हो जाएगी। उन्होंने सोचा अगर जंगल के रास्ते से जाऊं तो जल्दी पहुंच जाऊंगा इसीलिए उन्होंने जंगल की ओर गाड़ी घुमा ली। बहुत अंधेरा हो गया था. मामा जी तेज गति के साथ गाड़ी चला रहे थे लेकिन उनकी गाड़ी के एक आगे एक औरत आ गई। उन्हेंने एकदम से ब्रेक मारनी पड़ी। जो औरत गाड़ी के सामने आई थी वह तेज-तेज रो रही थी।

READ :  Horror Story: खोंफनाक जंगल का वो सुनसान रास्ता.....!

मामा जी को लगा कि वह जरूर किसी मजदूर की पत्नी होगी जो रास्ता भटक गई है. रास्ता बहुत सुनसान था इसीलिए उन्होंने सोचा कि इस महिला की मदद की जाए. उन्होंने उस औरत से पूछा कि तुम यहां अकेले क्या कर रही हो ? उसने कोई जवाब नहीं दिया और जोर-जोर से रोने लगी। ऐसा लग रहा था मानो सारा जंगल उसकी आवाज से गूंज रहा हो। मामा जी ने पूछा कि तुम्हरा घर कहां है, तो भी वह कुछ नही बोल रही थी।

मामा जी ने उसे बोला कि तुम मेरे साथ मेरे घर चलो सुबह तुम्हें तुम्हारे घर छोड़ दूंगा। वह मामा जी के साथ चलने के लिए तैयार हो गई और गाड़ी के पीछे वाली सीट पर बैठ गई।

उसने अपने सिर पर घूंघट डाल रखा था जिसकी वजह से उसका चेहरा छिपा हुआ था। हम सब मामा जी का इंतजार कर रहे थे जैसे ही गाड़ी की आवाज आई सब भाग कर इकट्ठा हो गए।

जब उस महिला के बारे में घर में पूछा गया तो मामा जी ने सारी कहानी बताई। मामा जी ने कहा आज खाना यही बना देगी. लेकिन मेरी मामी को उस महिला पर शक हो गया था उन्हें लगा कि यह कोई चोर है जो घर का सामान चुराकर भाग जाएगी। मामी जी  ने उसे रसोई में जाकर खाना बनाने को कहा, और वह बिना कोई जवाब दिए वहां से चली गई। और रसोई में से अजीब से आवाजें आ रही थीं ।

READ :  जैसे कोई अनजाना साया चलता हो साथ साथ

रसोई में सारा सामान रखवा कर मामी ने उसे कहा कि सब भूखे हैं इसीलिए जल्दी खाना बना दे।  उसे रसोई में भेज तो दिया लेकिन मामी का मन अभी भी शांत नहीं हुआ। 10 मिनट बाद मामी रसोई में पहुंची तो देखा अभी वह थैले में से मछलियां निकाल ही रही थी। यह देखकर मामी को गुस्सा आ गया। उन्होंने उसे बोला कि अभी तक तुमने खाना बनाना शुरू नहीं किया, कब बनेगा और कब हम खाएंगे।

उस महिला का चेहरा अभी भी ढका हुआ था इसीलिए किसी ने उसका चेहरा नहीं देखा था। मामी उसका चेहरा देखने की कोशिश करती रही लेकिन उन्हें उसकी झलक भी दिखाई नहीं दी। मामी ने कहा कोई जरूरत हो तो बुला लेना लेकिन फिर भी वह कुछ नहीं बोली। उन्हें लगा कि शायद अंजान लोगों से डर रही होगी।  मामी जी रसोई से चली गई लेकिन जब 10 मिनट बाद वह फिर वापस आई तो रसोई का दृश्य देखकर मां डर गई. उनके पैर जैसे वहीं जम गए। उनके गले की आवाज नहीं निकल रही थी।

उन्होंने देखा वह औरत रसोई के स्लेप पर बैठकर कच्ची मछलियां खा रही है. सारी रसोई में हड्डियां और मांस के टुकड़े बिखरे पड़े थे।

READ :  चमकीला प्रेत: जिसकी वजह से बदल गयी ज़िन्दगी

उसके सिर का घूंघट भी उतरा हुआ था, उसका चेहरा बेहद खौफनाक था. बाल बहुत बड़े और नाखून एक दम काले। वह मछलियां खाने में मगन थी इसीलिए उसका ध्यान मामी जी पर नहीं गया। मामी जी भी चिल्लाई नहीं कि कहीं वह और ज्यादा खतरनाक न हो जाए।

मामी जी ने एक थाल उठाया और वह चूल्हे में से जलता हुआ कोयला उठाकर उसकी तरफ दौड़ी.
कोयला उस चुड़ैल पर फेंक दिया, आग की जलन की वजह से वह डायन तेज-तेज आवाजें निकालने लगी. उसकी आवाज सुनकर सारा घर इकट्ठा हो गया।

उसे आग दिखाकर घर से बाहर निकाला गया. उसकी आवाज इतनी तेज थी कि आसपास के लोगों का भी बाहर जमावड़ा लग गया. वह डायन लोगों की भीड़ को हटाते हुए जंगल की तरफ दौड़ी, सारे लोग डर के मारे कांप रहे थे और मामी जी की हिम्मत की दाद भी दे रहे थे कि अगर उन्होंने सही समय पर कोयले से उस डायन को भगाया नहीं होता तो पता नही क्या हो जाता।

★दोस्तों अगर आपको मेरी कहानी पसन्द आई हो तो Please Comment और Like जरूर करे★

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Name and email are required