तो क्या नासा वैज्ञानिकों ने खोज ली दूसरी पृथ्वी?

दूसरी पृथ्वी

दोस्तों हम इस पुरे ब्रह्माण्ड में अकेले है या हम जैसे और भी है। ये सब तो हम निश्चित तोर पर नही बोल सकते परंतु आज के समय में इस बात पर बहुत बहस छिड़ी हुई है। दुनिया भर के वैज्ञानिक अंतरिक्ष में ऐसे प्लैनेट्स की खोज में लगे हुए है। जिनपर जीवन पनपने की संभाबना हो इसी बीच खबर आई है। की अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने एक ऐसे ग्रह की खोज की है जो बिलकुल हमारी पृथ्वी के जैसा है। इसका मतलब हुआ की नासा ने दूसरी पृथ्वी को खोज लिया है।

सुनकर अजीब लगा ना…लेकिन संकेत बता रहे हैं। कि नासा के वैज्ञानिकों ने ऐसे पृथ्वी के आकार वाले ग्रह को खोज निकाला है। जिस पर पानी पाया जाता है। पानी यानी मतलब जीवन। नासा नासा के इस प्रयास को हमारे वैज्ञनिक जगत की सबसे बड़ी उपलब्द्दि मानी जा रही है।

समुंद्री इतिहास का सबसे बड़ा हादसा….टाइटैनिक से भी ज्यादा (9343) लोग मारे गये थे इसमें

दूसरी पृथ्वी
दूसरी पृथ्वी

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यह ग्रह पृथ्वी की ही तरह चट्टानी है, जिसकी खोज उस टेलिस्कोप से की गई है जिसे कि ग्रह को खोजने के लिए साल 2009 में लांच किया गया था।

READ :  Hindusthan ke Akhiri Gaon ki Kahani Jaha Garib Bhi Ho Jata Hai Aamir - Badrinath

क्यों चांद पर जाने वाले पहले अंतरिक्ष यात्रियों (Astronauts) को था मौत का डर इसलिए करके गए ये काम, आज बन गया इतिहास

केपलर मिशन के तहत लांच किये गये इस टेलिस्कोप का व्यास 0.95 है, जो अभी तक एक लाख तारों की चमक पर नज़र रखता है। इसका काम है तारों की चमक होने का हिसाब रखना। क्योंकि ऐसा कहा जाता है कि अगर तारे की चमक कम हई तो इसका मतलब यह हुआ कि उसकी कक्षा में कोई ग्रह चक्कर लगा रहा है या घूम रहा है।

2015 में केपलर ने गोल्डिलॉक ज़ोन (जीवन की संभावना वाले) में आठ नए ग्रहों की खोज कर डाली है। लेकिन इससे पहले पृथ्वी जैसे दो ग्रह केपलर-438बी और केपलर-442बी खोजे गए थे। लेकिन यह अर्थ से बड़े थे और छोटे लाल सितारों का चक्कर लगा रहे थे जिनका का तापमान सूरज के मुकाबले कहीं ज़्यादा कम था।

READ :  भारत के 31 आश्चर्यजनक तथ्य | Interesting-Amazing Facts About India_Part 2

क्या सच में कभी मंगल ग्रह पर जीवन था जो एक एलियन युद्ध में खत्म हो गया ??

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Name and email are required