Rooting Your Android: Benefits and Disadvantages in Hindi

तो, अगर आप अपने नए और महंगे Android फोन को Rooted करना चाहते है और आप दुविधा में हैं। आपके मन में कई सवाल है की Rooted करने में फायदा है या नुकसान। इस  Post के माध्यम से आज हम आपको उन सवालों के जवाब देने की कोशिश करेंगे।

हम सबसे बुनियादी सवाल के बारे में बात करते है —– क्या मतलब है जब कोई कहता है मुझे अपना फ़ोन Rooted करना है / नहीं करना है।

 

Android फ़ोन को Root करना है…. इसका क्या मतलब है?

Android में आसान शब्दों में Rooting का मतलब विशेषाधिकार प्राप्त करना है जब आप एक नया एंड्रॉयड फोन खरीदते है तो आप फोन को सिर्फ एक guest user की तरह इस्तेमाल करते हैं। जैसे एक guest user windows का उपयोग करता है, लेकिन आप सिस्टम फ़ाइलों के लिए कोई भी परिवर्तन नहीं कर सकते हैं।

हालांकि, बाद में जब आप अपने फोन को रूट कर लेते है, तो आप अपने Android के Root फ़ोल्डर को Browse कर के अपने फोन पर सिस्टम फ़ाइलों में कोई भी परिवर्तन कर सकते है। इसका मतलब के आपके पास और अधिक अधिकार है कि आप powerful apps को install करके वह सब कुछ कर सकते है जो non-rooted फोन नहीं कर सकता।

READ :  How to Set Picture in Background of Google Keyboard in Android

अब हम Android फोन को Root करने के गुण और दोष के बारे में बात करेंगे। चलिए सबसे पहले बात करते है Root करने के फायदे।

Android Phone को Root करने के लाभ:

Run Special Applications:

फ़ोन को root करने के बाद आप आप कुछ Special Applications use कर सकते है जो की सिर्फ एक Rooted फ़ोन में ही use कर सकते है। Rooted application में ज्यादा features होते है किसी non rooted application की तुलना में.

इन विशेष apps की मदद से आप सीधे android phone की फाइल्स में changes कर सकते है.

जैसे की, आप rooting की वजह से pre-installed system apps को भी डिलीट कर सकते है.

 

Run Custom ROM’s

फ़ोन को Root करने का सबसे बड़ा कारण है की इसमें हम मनचाही ROM install कर सकते है.

READ :  Proximity sensor issue in Redmi 3s, 3s Prime and other Redmi phones

इन custom ROM’s से performance भी सही होती  है और ये user friendly भी होती है as compared to compared to the stock ones.

 

Free Internal Storage

जिन लोगों के mobile में कम internal memory होती है वो लोग Rooted mobile में अपनी install apps को external memory में transfer कर सकते है. ये एक बहुत बड़ा advantage है Rooting का. ऐसी काफी ऑनलाइन apps है जिनकी मदद से आप ऐसा कर सकते है. परंतु ये apps सिर्फ Rooted फ़ोन में ही काम करेंगे.

परन्तु इस बात का ये मतलब नहीं है के Rooting क सिर्फ फायदे ही है……फायदे के  साथ इसका नुकसान भी है. चलिए बात करते है Disadvantages की.

 

Disadvantages of Rooting Your Android

तो, चलिए बात करते है नुकसान की…

Your Phone Might Get Bricked

ये आपको Demotivate करने के लिए नहीं है परंतु मान लिजिये के मेनें अपने Sumsung Note को Root करने कि कोशिश कि और वो brick हो गया और वो sevice center में 15-20 दिनों के लिए चला गया.

READ :  How to play unsupported format in MX player???

चाहे आपने जितना मर्जी अच्छा video tutorial देखा हो क्योंकि ये एक चुनौतीपूर्ण काम है, अगर आपने कोई एक स्टेप भी मिस कर दिया तो आपका installation process corrupt हो जायेगा.

और अगर आपका फ़ोन fully और semi brick हो गया तो आपको सर्विस सेण्टर जाना ही पड़ेगा, और अगर सर्विस सेंटर वालो को पता चल गया के आपका फ़ोन brick हुआ है तो वो आपसे इसका चार्ज भी लेंगे (चाहे फ़ोन warranty में ही क्यों न हो)

 

End up Phone’s Warranty

अगर अपने फ़ोन को root किया तो आपके फ़ोन की सर्विस warranty end हो जाएगी.

 

Conclusion

इसका Conclusion यही है के आप अपने फ़ोन को Root करने से पहले अच्छे से prepare हो जाये, और दोनों आप्शन (Root और Un-Root) को सही से सोच के ही करे.

 

 

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Name and email are required